इम्यूनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय

हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता( इम्यूनिटी ) जितनी अच्छी रहेगी, हम रोगों से उतना ही दूर रहेंगे और हमारा शरीर स्वस्थ भी रहेगा। आज के इस दौर में हम अपने कामों को लेकर इतने व्यस्त और उलझे हुए हैं, कि अपने शरीर का ख्याल रखना ही भूल गए हैं। जिसे स्वस्थ रखना हमारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए। शरीर स्वस्थ रखने का आशय हमारी रोगों से लड़ने की क्षमता का है।

वर्तमान समय की बात करें तो आज हम सभी लोग जिस तरह से महामारी और रोगों की चपेट में आ रहे हैं।  उससे बाहर निकलना बहुत ही मुश्किल नजर आ रहा है।  ऐसे में कोरोना जैसे भयंकर महामारी से लड़ने के लिए हमारे पास न तो कोई वैक्सीन है और न ही कोई उपयुक्त दवाईयां। इस महामारी के चेन को हम लोग अपनी इम्यूनिटी यानी कि अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर तोड़ सकते हैं। हमें अपनी सेल्फ हाइजीन के साथ-साथ अपनी इम्यूनिटी को भी सर्वोपरि रखना होगा।

आखिर क्या है इम्यूनिटी अथवा रोग प्रतिरोधक क्षमता :-

हम सब कभी न कभी बीमार तो जरूर पड़े होंगे। बहुत बार हम लोग बिना किसी ट्रीटमेंट के भी ठीक हो जाते हैं, यह केवल हमारी इम्यूनिटी के कारण ही संभव हो पाता है। जब भी कोई जीवाणु या विषाणु या बाह्य पदार्थ हमारे शरीर की कोशिकाओं से संपर्क स्थापित करने लगता है और हमारी शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है, उसे एंटीजन कहते हैं। तब हमारी शरीर इस एंटीजन के विरुद्ध एंटीबॉडी को सक्रिय करती है और रोगों से लड़कर हमारी शरीर की रक्षा करती है, इसे ही हम इम्यूनिटी या शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कहते हैं। हम कुछ आसान से घरेलू उपाय अपना करके अपनी इम्यूनिटी को बढ़ा सकते हैं।

step of immunity

इम्यूनिटी बढ़ाने के कुछ घरेलू उपाय :-

हम अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता कुछ आसान घरेलू उपायों को अपनाकर बढ़ा सकते हैं, जो इस प्रकार से हैं :

दही : रोजाना दही के कुछ ही मात्रा के सेवन से ही हम अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं। इतना ही नहीं बल्कि दही में अधिक मात्रा में कैल्शियम पाए जाने के कारण यह वजन घटाने में भी सहायक होता है।

नींबू : नींबू के रस को उबले हुए पानी में डालकर रोजाना सेवन करने से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है निंबू के साथ साथ हमें प्रचुर मात्रा में विटामिन-C पाये जाने वाले फलों जैसे कि:- संतरा मौसमी आदि का भी सेवन करना आवश्यक होता है।

अदरक : इम्यूनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए दिन में कम से कम दो बार अदरक वाली चाय जरूर पिए। अदरक के टुकड़े को नमक लगाकर चलाने से सर्दी जुकाम में भी राहत मिलती है।

तुलसी : तुलसी प्राचीन काल से ही प्राकृतिक औषधि के रूप में बहुत ही प्रख्यात और गुणकारी है। रोजाना सुबह तुलसी के तीन से चार पत्ते चबाकर खाने से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। जिससे हम सर्दी जुकाम, मुंह की दुर्गंधता और महिलाओं में पीरियड्स कि अनियमितता इत्यादि से छुटकारा पाते हैं।

हल्दी : हल्दी भी औषधीय गुणों से भरपूर होता है। रोजाना रात को गुनगुने दूध में आधा चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर पीने से इम्यूनिटी के साथ-साथ यह डायबिटीज को कंट्रोल तथा दिमाग को भी तंदुरुस्त बनाए रखता है।

लहसुन : लहसुन की तीन से चार कलियां रोजाना चबाने या फिर एक कप पानी में उबालकर पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता के साथ साथ इसके अन्य गुणकारी फायदे भी हमें मिलते हैं।

ग्रीन टी : ग्रीन टी के साथ साथ ब्लैक टी भी इम्यून सिस्टम के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है एक से दो कप रोजाना ग्रीन टी पीने से हमारा इम्यून सिस्टम सही रहता है। (ग्रीन टी का ज्यादा मात्रा में सेवन नुकसानदेह हो सकता है।)

ये भी पढ़े :-

इन सभी उपायों के अतिरिक्त हमें अच्छी तरह से नींद जरूर लेनी चाहिए और घर में तथा समाज में लोगों के बीच खुशहाल माहौल रखना चाहिए। इससे भी हमारी इम्यूनिटी या रोंग प्रतिरोधक क्षमता पर अच्छा प्रभाव पड़ता है।

दोस्तों, मुझे उम्मीद है कि इम्यूनिटी बढ़ाने के संबंध में यह पोस्ट आप लोगों के लिए बहुत ही उपयोगी हो सकता है। अगर इससे संबंधित आपका कोई सलाह अथवा सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर अवगत कराएं। Gyanlelo.com से जुड़े रहने के लिए धन्यवाद!

 

 

Abhishek Kumar Singh

Abhishek Kumar Singh is a founder of Gyanlelo.com He loves to help people. Entreprenuer | Content Creator | Blogger | Medical Lab Technologist by Education

3 thoughts on “इम्यूनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के घरेलू उपाय

  • April 20, 2020 at 3:36 pm
    Permalink

    स्वास्थ्य ही सबसे बड़ा धन है। Helth in wealth

    Reply
    • April 20, 2020 at 3:53 pm
      Permalink

      सही कहा आपने और हमें ऐसे ही उपायों से इसे सजो कर रखना है…

      Reply
  • April 25, 2020 at 4:22 pm
    Permalink

    अच्छा स्वास्थ्य आतंरिक शक्ति, शांत मन और आत्मविश्वाश लाता हैं, जो की बहुत मत्वपूर्ण है।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!