नाखून की बीमारी के इलाज का घरेलू उपाय

नाखून हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण भाग है। चाहे वह पैर का नाखून हो या हाथ का। कभी-कभी फंगस के कारण हमारे हाथों और पैरों की खूबसूरती बढ़ाने वाले यह नेल खराब हो जाते हैं, नाखून का खराब होना कई बीमारियों के कारण भी हो सकता है।

नेल फंगस के कई कारण हो सकते हैं। नेल फंगस के कारण हमारे नाखून रंगहीन, खुरदुरा और मोटा हो जाता है। नेल फंगस को हम ऑनायकोमाइकोसिस  (Onychomycosis)  नाम से जानते हैं। नेल फंगस मुख्यतः यीस्ट (yeast) और मोल्ड्स (moulds) फंगस के कारण भी होता है। यह हमारे पर्यावरण में ही स्थित होते हैं, जो हमारे नाखून के पास बनी हुई त्वचा के छोटे दरारों के द्वारा अंदर चले जाते हैं और संक्रमण का कारण बनते हैं।

healthy nail

इस बीमारी से कोई व्यक्ति ग्रसित हो सकता है पर मुख्यतः यह बीमारी मधुमेह के रोगी, कमजोर प्रतिरक्षा तंत्र वाले, नाखून की चोट वाले, वृद्ध तथा नाखून की सर्जरी कराने वाले लोगों में अधिक देखा जाता है।

इस बीमारी के कारण हमारे नाखून के आकार में परिवर्तन, नाखून का टूटना और दरार पड़ना नाखून की प्राकृतिक चमक का खोना तथा उसके रंग में परिवर्तन भी होना आम बात है। आइए जानते हैं नाखून के बीमारी के इलाज का कुछ घरेलू उपायों के बारे में :-

कुछ घरेलू उपाय जिसे अपनाकर हम नाखून की बीमारी से निजात पा सकते हैं :

  1. लहसुन : लहसुन की एक या दो कलियों को छीलकर इसे हाथों से मसलकर प्रभावित नाखूनों पर लगाकर लगभग आधे घंटे तक रखें।रोजाना इस प्रक्रिया को एक से दो बार किया जा सकता है। लहसुन में एंटीमायकॉटिक ड्रग के गुण के कारण एंटीफंगल की तरह उपयोग में लाया जाता है।
  2. एलोवेरा जेल : फ्रेश एलोवेरा जेल को संक्रमित नाखूनों पर 20 मिनट तक लगाकर रखें फिर धो लें। एलोवेरा जेल में एंटीफंगल और एंटीमाइक्रोबियल गुण के कारण यह कवको को फैलने से रोकता है।
  3. नारियल तेल : थोड़ी मात्रा में नारियल तेल लेकर संक्रमित जगह पर लगाएं। नारियल का तेल एंटीफंगल गुणों को प्रदर्शित करता है। इसलिए अपने नाखूनों के इलाज के लिए इसका उपयोग अत्यंत लाभदाई सिद्ध होता है।
  4. गुलाब जल : गुलाब जल का एंटीसेप्टिक और एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के कारण यह हमारे नाखूनों के गुलाबी रंग बनाए रखने में मददगार होता है। थोड़ी मात्रा में गुलाब जल लेकर हाथों की अंगुलियों पर लगाएं।
  5. शहद : शहद फंगस और बैक्टीरिया को रोकने में काफी मददगार होता है। यह हमारे नाखूनों को पोषण और कोमलता प्रदान करता है। शहद को नींबू के रस में मिलाकर लगाने से हमारे नाखून चमकीले और मजबूत होते हैं।
  6. विक्स वेपोरब : थोड़ी मात्रा में विक्स वेपोरब की सहायता से प्रभावित नाखूनों पर लगाने से नेल फंगस की समस्या दूर होती है। इसमें उपस्थित मेंथाल फंगस के लक्षणों को कम करने में मदद करता है।
  7. नींबू का रस : नींबू के रस को रुई की सहायता से नाखूनों पर लगाएं और सूखने दें। नींबू के रस में विटामिन-सी होने के कारण यह नाखून की मजबूती तथा इसके विकास को बढ़ाता है।

ये भी पढ़े :-

आजकल Nail की बीमारी की समस्या बहुत ज्यादा देखने को मिल रहा है। अतः आप इन सभी उपायों को अपनाकर नाखून के इस बीमारी से निजात पा सकते हैं।

मुझे उम्मीद है कि आप लोगों के लिए ये उपाय कारगर सिद्ध होंगे। अगर आप लोगों का इससे जुड़ा कोई सवाल अथवा सुझाव हो तो हमें कमेंट करके बता सकते हैं। gyanlelo.com से जुड़े रहने के लिए धन्यवाद!

 

Abhishek Kumar Singh

Abhishek Kumar Singh is a founder of Gyanlelo.com He loves to help people. Entreprenuer | Content Creator | Blogger | Medical Lab Technologist by Education

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!